सफलता पर सुकरात की शिक्षा कहानी | Secret of Success by Socrates in Hindi Story

एक समय जब सुकरात यूनान में काफी प्रसिद्ध थे । एक युवा लडका अपने भविष्य के प्रति काफी चिन्तित था। वह सुकरात के पास गया और पुछा की हमे अपने लक्ष्य तथा सफलता के लिये कितनी मेहनत करनी चाहिये।

तो सुकरात उस युवा लडके को संमुद्र के किनारे ले गये । कहा में पानी में जा रहा तुम तब तक मेरे साथ आना जब तक में रुकने को ना कहू। अब दोनो पानी में आगे बढने लगे। सुकरात तब तक आगे बढते गये जब तक की दोनो गले गले तक नही डूब गये। अब सुकरात ने उस युवा को पानी में पकडा और थोडी देर के लिये पानी में डूबो दिया। अब लडका छटपटाने लगा। लेकिन सुकरात ने थोडी देर उसे बहार नही आने दिया।

उसके बाद सुकरात ने उसे बहार लाकर लडके से एक प्रश्न पुछा कि जब तुम पानी में थे तो तुम्हे सबसे ज्याद तडफ किस चीज की महसूस हो रही थी ।

लडके ने जबाव दिया कि आंक्सीजन की। सुकरात ने कहा जिस दिन तुम्हे इतनी ही तडप अपने लक्ष्य और सफलता की होने लगेगी। उस दिन तुम सफल हो जाओगे।

यदि आप इसी तरह की अन्य ज्ञान वर्धक कहानी पढ़ना चाहते है तो हमारे पेज प्रेरणादायक ज्ञानवर्धक हिंदी कहानी संग्रह पर क्लिक करे और आनंद से पढ़े   

Leave a Comment

error: Content is protected !!