Gautam Buddha Quotes in Hindi

Gautam Buddha Quotes in Hindi – भगवान गौतम बुद्ध के बचपन का नाम सिदार्थ था उनके पिता का नाम शुद्धोधन था जो शाक्य गणराज्य के राजा थे। बुद्ध के जन्म से पहले ही इनके पुराहित ने भविष्यवाणी कर दी थी की यह बालक बडा होकर सन्यासी जीवन बीतायेगा।

संसार के कल्याण के लिये इस बालक का जन्म हो रहा है । लेकिन इनके पिता ये न माने और बालक सिद्धार्थ की शिक्षा दिक्षा का प्रबन्ध घर पर ही करवा लिया । और आगे चलकर इनकी शादी यशोदरा नाम की लडकी से करवा दी। जिससे इन्हे एक पु़त्र की प्राप्ति भी हुयी।

लेकिन इनके मन में उठे संसार से संबन्धिन प्रश्नो का उतर पाने के लिये ये एक दिन घर छोडकर चले गये। और वन में घोर तपस्या की। और जब इन्हे ज्ञान की प्राप्ति हो गयी तो इन्होने बौद्ध धर्म की स्थापना की। इनके द्धारा कहे कुछ अनमोल विचारो Gautam Buddha Quotes in Hindi को आप नीचे पढ सकते है।

नाम – गौतम बुद्ध
जन्म – 563 ईसा पूर्व या 663 ईसा पूर्व लुम्बनि, (वर्तमान नेपाल)
मृत्यु -483 ईसा पूर्व या 543 ईसा पूर्व (कुशीनगर)
राष्ट्रीयता – भारतीय
जीवनी –
सम्बन्धित किताब –

भगवान गौतम बुद्ध के अनमोल विचारो का संग्रह – Gautam Buddha Quotes in Hindi

Thought – 1: हम सब ने आज तक जो कुछ भी सोचा है हम उसका परिणाम है । यदि कोई आदमी बुरे विचार के साथ बोलता या कार्य करता है, तो उसे दर्द ही मिलता हैं। जब कोई इन्सान अच्छे विचारो के साथ बोलता व कार्य करता है, खुशी उसकी परछाई की तरह सदैव उसके साथ रहती है।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 2: एक हजार खोखले शब्दो की तुलना में वह एक शब्द बेहतर है जा शांति लेकर आये ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 3: सारे बुरे कार्य मन की वजह से ही उठते है यदि मन बदल जाये तो क्या बुराई रह सकती है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 4: एक बर्तन बूंद बूंद से ही भरता है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 5: अतीत में न रहो , भविष्य के बारे में सपने मत देखो , अपने मन को वर्तमान क्षण पर केन्द्रित करो ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 6: स्वास्थ्य सबसे बडा उपहार है, संतुष्टि सबसे बडा धन, सबसे अच्छा संबंध सच्चाई ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 7: जैसे एक मोमबती आग के बगैर नही जल सकती । इसी तरह इन्सान भी आध्यात्मिक जीवन के बिना नही जी सकते ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 8: तीन चीजे, लंबे समय तक नही छुप सकती सूर्य, चंद्रमा, और सत्य ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 9: अपने स्वयं के उद्धार के लिये स्वयं ही प्रयत्न करे, दूसरो पर निर्भर मत हो।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 10: आप अपने गुस्से के लिये दंडित नही किये जायेगे, बल्कि आप अपने गुस्से के द्धारा दंड पायेगे।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Gautam Buddha Quotes in Hindi-

Thought – 11: एक जंगली जानवर से ज्यादा किसी कपटी ओर बुरे मित्र से ज्यादा डरना चाहिये । एक जानवर तो केवल आपके शरीर को हानि पंहुचा सकता है। परन्तु एक बुरा दोस्त तुम्हारे मन को घाव दे सकता है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 12: अहंकार मत करो दूसरो से ईर्ष्या करके तुम्हे क्या प्राप्त होगा। वह जो अन्य लोगो से ईर्ष्या करता है उन्हे मन की शांति नही प्राप्त होती है।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 13: घृणा घृणा से नही खत्म होती है, यह केवल प्रेम के द्धारा खत्म होती है, यही सनातन सत्य है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 14: वे जो पचास लोगो से प्यार करते है उनके पचास संकट है, वह जो किसी से प्यार नही करता उसका कोई भी संकट नही है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 15: एक लोभी की तरह गुस्से को पाले रखना किसी और के उपर गर्म कोयला फेकने के भाव से इसे पकडे रहने के समान है, इसके द्धारा आप ही जलते है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 16: हालांकि कई पवित्र शब्द आप पढ व बोल सकते हैं, वह तुम्हारे लिये क्या अच्छा करेगे, जब तक आप उनका प्रयोग नही करेगे ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 17: मैने कभी नही देखा क्या किया जा चुका है मै सदैव यह देखता हु कि क्या करना अभी बाकी है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Gautam Buddha Quotes in Hindi-

Thought – 18: जीवन स्वास्थ्य के बिना जीवन नही है । यह केवल अवसाद और पीडा की एक अवस्था है, मृत्यु की एक छवि है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 19: जो हम सोचते है वो हम बनते है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 20: संदेह की आदत से खतरनाक और कुछ भी नही है। संदेह की आदत लोगो को अलग करती है। यह जहर के समान है, जो मित्रता को और अच्छे सम्बन्धो को तोडता है । यह एक कांटा है जो कुपित करता ओर दर्द देता है। ओर हमारे रिश्तो पर तलवार मारता है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 21: सत्य के रास्ते पर जाते हुये कोई दो ही गंलतिया कर सकता है । या तो वह पुरा रास्ता तय करता है या वह इसको आरम्भ ही नही करता ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Thought – 22: जब किसी विवाद में जब हम तुरन्त क्रोध है । तब हम पहले से ही सत्य का रास्ता छोड देते है और स्वयं के लिये प्रयास शुरु करने लगते है ।

(गौतम बुद्ध Gautam Buddha)

Leave a Comment

error: Content is protected !!