योग में वर्णित आसन, प्राणायाम, मुद्रा व बंध से सम्बंधित सम्पूर्ण ज्ञान व प्रभाव

वर्तमान युग में यदि आपको निरोगी शरीर चाहिये तो वह योग से ही सम्भव है। योग प्राचीन समय से ही हमारे साथ चलते आया है। लेकिन अपनी अचेतनता के कारण मानव समुदाय इससे दूर ही रहा। वर्तमान समय में मनुष्य की जीवन शैली मे हो रहे बदलाव के कारण यह उसके लिये अति आवश्यक हो … Read more

error: Content is protected !!