उपनिषद से संबंधित सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी | Upanishad Short Question Answer in Hindi

प्रश्न 1 – ईशावास्योपनिषद शुक्ल यजुर्वेद का कौनसा अध्याय है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद शुक्ल यजुर्वेद का 40 वां अध्याय है।

प्रश्न 2 – ईशावास्योपनिषद उपनिषद में श्लोकों की संख्या कितनी है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद में श्लोकों की संख्या 18 है।

प्रश्न 3 – उपनिषदों की संख्या कितनी है ?
उत्तर – उपनिषदों की कुल संख्या 108 है।

प्रश्न 4 – 108 उपनिषदों में से मुख्य उपनिषद कितने हैं ?
उत्तर – मुख्य उपनिषदों की संख्या 10 है।

प्रश्न 5 – उपनिषदों में से सबसे पहला उपनिषद किसे माना जाता है ?
उत्तर – उपनिषदों में से सबसे पहला उपनिषद ईशावास्योपनिषद को माना जाता है।

प्रश्न 6 – ईशावास्योपनिषद में विद्या व अविद्या को क्या कहा गया है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद में विद्या व अविद्या को ज्ञान व कर्म कहा गया है।

प्रश्न 7 – ईशावास्योपनिषद कौन से वेद से संबंधित है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद शुक्ल यजुर्वेद से संबंधित है।

प्रश्न 8 – ईशावास्योपनिषद में क्रांति दर्शी किसे कहा गया है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद में क्रांति दर्शी के यानी ईश्वर को माना गया है।

प्रश्न 9 – ईशावास्योपनिषद में ईश्वर प्राणी धान की उच्च अवस्था क्या कहीं गई है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद में ईश्वर प्राणी धान की उच्च अवस्था आत्म भाव है।

प्रश्न 10 – ईशावास्योपनिषद में ज्ञान की प्राप्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना कौन से मंत्रों में की गई है ?
उत्तर – ईशावास्योपनिषद मैं ज्ञान की प्राप्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना 15 से 18 मंत्र तक की गई है ।

प्रश्न 11 – कौन से उपनिषद के अनुसार अमर त्व की प्राप्ति ब्रह्म ज्ञान से होती है ?
उत्तर – केनोपनिषद के अनुसार

प्रश्न 12 – नचिकेता यम आचार्य से पहला वर क्या मांगा था ?
उत्तर – नचिकेता ने यामा चारे से पहला वर मांगा था कि मेरे पिता का क्रोध शांत हो जाए ।

प्रश्न 13 – श्रद्धा काल किस काल को कहा गया है ?
उत्तर – मरने के समय को ।

प्रश्न 14 – यम आचार्य के पास नचिकेता कितने दिन तक भूखे प्यासे बैठे रहे ?
3 दिनों तक ।

प्रश्न 15- नचिकेता के पिता ने गुस्से में अपने पुत्र को किस को दान देने को कहा था ?
उत्तर – यामा चार्य मृत्यु को ।

प्रश्न 16 – सबसे पहले यक्ष के पास कौन गए ?
उत्तर – अग्नि देव ।

प्रश्न 17 – यक्ष ने किस की परीक्षा ली है ?
उत्तर – यक्ष ने 3 देवों की की परीक्षा ली( अग्नि वायु और इंद्र देव की ) ।

प्रश्न 18 – जिस प्रकार इंद्रियों से सूक्ष्म विषय है मन से सूक्ष्म विषय क्या है ?
उत्तर – बुद्धि ।

प्रश्न 19 – किस उपनिषद के अनुसार विराट पुरुष की उत्पत्ति जल से हुई है ?
उत्तर – ऐतरेय उपनिषद ।

प्रश्न 20 – आत्मा ने किन्हीं चार लोगों की रचना की है ?
उत्तर – सूर्य अंतरिक्ष पृथ्वी व जल ।

प्रश्न 21 – ऐतरेय उपनिषद में जीव के कितने जन्मों का वर्णन है ?
उत्तर – ऐतरेय उपनिषद में जीव के तीन जन्मों का वर्णन है।

प्रश्न 22 – मांडूक्योपनिषद में कितने मंत्र हैं ?
उत्तर – मांडूक्योपनिषद में कुल 12 मंत्र हैं।

प्रश्न 23 – निर्गुण उपासना चेतना के किस अवस्था की उपासना है ?
उत्तर – तुरिया अवस्था की।

प्रश्न 24 – प्रज्ञा चेतना की किस अवस्था का नाम है ?
उत्तर – सुषुप्तिवस्था का।

प्रश्न 25 – यजुर्वेद के तपाने से कौन सा लोक उत्पन्न हुआ ?
उत्तर – भुवः (वायु)।

प्रश्न 26 – मांडूक्योपनिषद में चेतना की कितनी अवस्थाएं हैं ?
उत्तर – 4 (जाग्रत स्वप्न सुषुप्ति और तुरीय)।

प्रश्न 27 – वाणी का स्वामी कौन है ?
उत्तर – वाणी का स्वामी बृहस्पति है।

प्रश्न 28 – शिक्षा वली में कितने अंग है ?
उत्तर – शिक्षा वली में छह अंग है।

प्रश्न 29 – सर्व औषधी किसे कहा गया है ?
उत्तर – अन्न को।

प्रश्न 30 – देव व असुर किस की संताने हैं ?
उत्तर – देव व असुर प्रजापति की संताने हैं।

प्रश्न 31 – तैत्तिरीय उपनिषद में धातुओं की संख्या कितनी बताई गई है ?
उत्तर – तेतरी उपनिषद में धातुओं की संख्या 5 बताई गई है।

प्रश्न 32 – पांचवे स्तर का ज्ञान किसे कहा गया है ?
उत्तर – आनंद ही ब्रह्मा है।

प्रश्न 33 – ओंकार की उपासना का वर्णन कौन से उपनिषद में है ?
उत्तर – छांदोग्य उपनिषद में।

प्रश्न 34 – छांदोग्य उपनिषद में ब्रह्मा को क्या कहा गया है ?
उत्तर – ज्योति स्वरूप व जलान।

प्रश्न 35 – शांडिल्य विद्या का वर्णन कौन से उपनिषद व प्र पाठक में है ?
उत्तर – छांदोग्य उपनिषद के ३ प्र पाठक में।

प्रश्न 36 – तैत्रीयोपनिषद (शिक्षावली) में जीव का स्थान कहां बताया गया है ?
उत्तर – इंद्रीयोनि (तालु में स्तन मास)।

प्रश्न 37 – ब्रह्मानंद वल्ली ने ब्रह्मा की उत्पत्ति किससे बताई है ?
उत्तर – असत से ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!