होली भाई दूज त्यौहार कैसे मनाया जाता है, शुभ मुहूर्त क्या है, कैसे बहन भाई को तिलक करें ?

होली भाई दूज क्या है

भाई और बहन के पवित्र रिश्ते का यह त्योहार होली के ठीक अगले दिन मनाया जाता है इस बार यह होली भाई दूज का त्यौहार 30 मार्च को मनाया जाएगा ।

होली भाई दूज का शुभ मुहूर्त क्या है    

होली भाई दूज का शुभ मुहूर्त मार्च 29 को रात्रि के 8 बजकर 55 मिनट से शुरू होगा और 30 मार्च शाम 5 बजकर 27 मिनट पर खत्म होगा।

होली भाई दूज क्यों मनाते हैं?

एक मान्यता के अनुसार इस दिन यदि भाई अपनी बहन के घर जाकर भोजन करता है और बहन के हाथों से तिलक धारण करता है तो उसकी अकाल मृत्यु नहीं होती है।

होली भाई दूज का त्यौहार कैसे मनाया जाता है

इस दिन भाई को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर गंगाजल से स्नान करें , यदि गंगाजल घर पर उपलब्ध ना हो तो साधारण ठंडे पानी से नहा कर स्नान कर ले और शरीर की शुद्धि कर लें। उसके बाद भाई अपने बहन के घर कुछ उपहार या मिठाई लेकर जाते हैं और बहन अपने भाई का तिलक करके आरती करती है और भाई की लंबी उम्र की दुआ करती है इसके बाद बहन अपने भाई को अपने हाथ से बनाया हुआ भोजन करवाती है।

होली भाई दूज पे बहन भाई को तिलक कैसे करें।

पीतल या चांदी के कटोरे में चंदन को घिसकर उसमें दो बूंद गंगाजल  मिलाकर चंदन का तिलक तैयार करें और तैयार किए गए तिलक को भगवान शिव के चरणों में रखकर महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें और भाई के लंबी उम्र के लिए भगवान से प्रार्थना करें। अब यह तिलक सबसे पहले भगवान गणपति, शिव और विष्णु को लगाएं इसके बाद बहन अपने भाई की आरती उतारे और वह  तिलक अपने भाई को लगा लें अब अब बहन अपने भाई को मिठाई खिलाएं और भाई अपनी बहन को उपहार भेंट करें।

आप सभी भाई और बहनों को हमारी ओर से इस होली भाई दूज की बहुत सारी हार्दिक

शुभकामनाएं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!